High Earning Business : लाखों कमाने का मौका देता है यह बिज़नेस, जानें क्या है और कैसे मिलता है लाभ

गत्ते के डिब्बे का बिज़नेस कैसे शुरू करें, बॉक्स, बनाने का तरीका, विधि, मशीन, कैसे बनाएं, लागत, लाभ, लाइसेंस (Corrugated Box Manufacturing Business) (Process, Making, Machinery, Plan, Cost, Raw Material, Profit, License, in Hindi)  

गत्ते के डिब्बे या बॉक्स आजकल के समय में किसी भी सामान की पैकिंग के लिए बहुत अधिक उपयोग किए जाते हैं. ऐसे में अगर आप गत्ते के डिब्बे बनाने का बिजनेस करें तो यह व्यवसाय आपके लिए अत्यंत लाभदायक हो सकता है. यहां जानकारी के लिए बता दें कि गत्ते के डिब्बों की आवश्यकता हर प्रकार के व्यवसाय में पड़ती है इसीलिए इस प्रकार का बिजनेस काफी अधिक फायदा देने वाला होता है. ‌अगर आप यह बिजनेस करना चाहते हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़ें क्योंकि इसके बारे में हम आपको सारी जानकारी आज देने वाले हैं.

corrugated box making business in hindi

कुरियर सर्विस का बिज़नेस करने से 5 लाख रूपये तक की कमाई होती है, जानिए कैसे कर सकते हैं इसका बिज़नेस.

गत्ते के डिब्बे बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें (Corrugated Box Manufacturing Business)

यदि आप गत्ते के डिब्बे का बिजनेस करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपके लिए यह जान लेना बहुत जरूरी है कि उस का निर्माण किस तरीके से होता है और उसमें कौन कौन सा उत्पाद लगाया जाता है. यहां आपको जानकारी दे दें कि अगर आप पैकेजिंग उद्योग में कामयाब होना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इसके विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी होना अनिवार्य है. आप इसके लिए इंडियन इंस्टीट्यूट आफ पैकेजिंग से इस व्यवसाय से संबंधित कोर्स करके इसके बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी जान सकते हैं. इसके अलावा जहां से आप मशीन लेंगे वह आपको यह जानकारी दे देंगे की मशीन का उपयोग और संचालन आप किस तरह से कर सकते हैं.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस की मार्केट रिसर्च (Market Research)

वैसे तो गत्ते के बने बॉक्स की आज मार्केट में बहुत ही ज्यादा डिमांड है लेकिन जब आप इस व्यापार को शुरू करें तो आप अपने इलाके में एक बार मार्केट रिसर्च अवश्य कर लें. मार्केट रिसर्च के टाइम पर आप लोकल मार्केट के दुकानदारों से भी बात करें और यह जानें कि उस इलाके में गत्ते के डिब्बों की कितनी खपत हो सकती है और साथ ही साथ यह भी देखें कि इस प्रकार का बिजनेस और कितने लोग वहां पर कर रहे हैं.

ईंट बनाने का व्यवसाय : होती है 2 लाख रुपये तक की कमाई, जानिए कैसे शुरू करें

गत्ते के डिब्बे बनाने के लिए कच्चा माल (Raw Material)

यहां जानकारी के लिए बता दें कि गत्ते से बने डिब्बे बनाने के लिए आपको मुख्य रूप से क्राफ्ट पेपर की आवश्यकता पड़ेगी. अगर आप यह चाहते हैं कि आप अच्छे गुणवत्ता वाले गत्ते के बॉक्स बनाना चाहते हैं तो आप इसके लिए एक अच्छा क्राफ्ट पेपर ही खरीदें क्योंकि अगर आप पेपर अच्छी क्वालिटी का लेंगे तो आप के डिब्बे भी अच्छे ही बनेंगे. आप यह बाजार से 40 रुपए/किलोग्राम के रेट से खरीद सकते हैं. इसके अलावा आपको कुछ अन्य सामान की भी जरूरत होगी जैसे कि गोंद, सिलाई तार, स्ट्रॉबोर्ड इत्यादि.

गत्ते के डिब्बे बनाने के लिए आवश्यक मशीनें (Machinery)

जानकारी दे दें कि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको भिन्न प्रकार की मशीनों का उपयोग करना होगा जो कि आप इंडिया मार्ट और ट्रेड इंडिया से ऑनलाइन खरीद सकते हैं या फिर आप स्थानीय निर्माताओं से भी यह मशीनें बनवा सकते हैं. इन मशीनों की जानकारी निम्नलिखित है-

  • सिंगल फेस पेपर कॉरगेशन मशीन
  • शीट चिपकाने वाली मशीन
  • 4- बार रोटरी कटिंग और क्रिएसिंग मशीन
  • रील स्टैंड लाइट मॉडल के साथ 2 बोर्ड कटर
  • शीट प्रेसिंग मशीन
  • एसेंट्रिक सिलाई मशीन
  • दो सिलाई मशीनें- 1. 36 इंच आर्म एंगुलर हेड मशीन, 2. 48 इंच आर्म एंगुलर हेड मशीन.

मशीनों की कीमत (Price)

गत्ते बनाने वाली मशीनों की कीमत की जानकारी इस प्रकार से है-

  • सिंगल फेस पेपर कॉरगेशन मशीन- मूल्य 4 लाख रुपए.
  • शीट चिपकाने वाली मशीन- मूल्य 75 हजार रुपए.
  • 4- बार रोटरी कटिंग और क्रिएसिंग मशीन- मूल्य 2 लाख रुपए.
  • रील स्टैंड लाइट मॉडल के साथ 2 बोर्ड कटर- मूल्य एक लाख रुपए
  • शीट प्रेसिंग मशीन- मूल्य एक लाख रुपए
  • एसेंट्रिक सिलाई मशीन – मूल्य 2 लाख रुपए
  • दो सिलाई मशीनें- 36 इंच आर्म एंगुलर हेड मशीन- मूल्य 55 हजार रुपए.
  • 48 इंच आर्म एंगुलर हेड मशीन – मूल्य 50 हजार रुपए.

यहां आपको हम यही राय देंगे कि आप मशीनें खरीदने से पहले सप्लायर से इसकी कीमत के बारे में बात कर सकते हैं और मशीनों की जो वारंटी है उसके बारे में अवश्य जानकारी हासिल करें.

नोटबुक बनने का बिज़नेस : होती है लाखों की कमाई.

गत्ते के डिब्बे बनाने की प्रक्रिया (Process)

इस बिज़नेस में सबसे अधिक जरूरी है गत्ते के डिब्बे की मोटाई. यहां बता दें कि प्रत्येक डिब्बा अलग-अलग आकार और मोटाई का होता है. जानकारी दे दें कि इसमें 2- प्लाई,  3-प्लाई, 5- प्लाई, 7- प्लाई और 9- प्लाई इत्यादि की मोटाई वाले भिन्न-भिन्न कार्डबोर्ड का निर्माण कर के डिब्बे तैयार किए जाते हैं.‌ निम्नलिखित हम इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दे रहे हैं-

इसके लिए सबसे पहले आप क्राफ्ट पेपर शीट से कार्डबोर्ड का उत्पादन करें जिसको कॉरगेटेड बोर्ड भी कहते हैं. आपको फ्लैट शीट के कॉरुगेशन के लिए या फिर 2-प्लाई बोर्ड को तैयार करने के लिए एक कॉरगेटिंग मशीन का प्रयोग करना होगा. फिर उस फ्लैट शीट को एक गर्म फ्लेटेड रोल में से गुजारें. इस प्रकार इसकी एक परत जिंग जैग हो जाती है. उसके बाद 2 फ्लैट शीट लेकर उनके बीच में एक कॉरगेटेड शीट को लगाकर गोंद और चिपकाने वाली मशीन से चिपका दें.‌ इस प्रकार यह बहुत आसानी से चिपक जाएगी और इसके साथ-साथ इसका रोल भी बन जाता है. उसके बाद आप बोर्ड कटर मशीन लेकर इस रोल को काट कर इसके ऊपर अब एक और दूसरी और कॉरगेटेड शीट लगा दें और एक और फ्लैट शीट लेकर इसके ऊपर रखकर चिपका दें. ‌इस प्रकार इससे डबल फेस यानी 3-प्लाई कॉरुगेटेड बोर्ड बनकर तैयार हो जाएगा. ‌अगर आपको मोटा बोर्ड तैयार करना है तो आप इस पर एक के बाद एक शीट चिपका दें.

गत्ते की डिजाइन (Design)

जब कॉरगेटेड बोर्ड बन जाए तो फिर उसके बाद आपको बॉक्स को डिजाइन करना होगा. ‌बॉक्स का डिजाइन बनाने से पहले आप बोर्ड को अच्छी तरह से सुखा लें.‌ यहां आपको एक बात का ध्यान रखना है कि बॉक्स का आकार हमेशा उसके अंदर के डायमेंशन पर निर्भर करता है तो इसलिए आप इसकी लंबाई, चौड़ाई और गहराई पर विशेष तौर पर ध्यान दें. इसके अलावा बॉक्स बनाते समय आप अपने ग्राहक की मांग के अनुसार ही उन्हें बनाएं. यहां बता दें कि डिब्बे बनाने के लिए आपको 4- बार रोटरी कटिंग और क्रिएसिंग मशीन और एसेंट्रिक स्लॉट मशीन का प्रयोग करना होगा. मशीनों को चलाने के लिए आप इसके सप्लायर से ठीक तरह से समझ सकते हैं ताकि आपको बाद में मशीन के संचालन में कोई परेशानी ना हो. यहां आपको बता दें कि आप प्रिंटेड बॉक्स भी बना सकते हैं और यदि ग्राहक आपसे अपनी कंपनी के लिए कंपनी का नाम, लोगों या किसी अन्य तरह का डिजाइन बनवाना चाहता है तो वह भी आप प्रिंट कर सकते हैं. इस प्रकार गत्ते के बॉक्स को डिजाइन करके आप अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं और मुनाफा हासिल कर सकते हैं.

श्रमिक या मजदूर यदि नहीं करना चाहते हैं तो मजदूरी, तो शुरू करें व्यवसाय, होगी अच्छी कमाई.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस के लिए आवश्यक जगह (Location)

जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आपको जमीन और एक बिल्डिंग की जरूरत होगी जहां पर आप अपने गत्ते बनाने की मशीनें और दूसरा जरूरी सामान रख सकते हैं. आप अपने काम की शुरुआत ऐसी जगह पर करें जहां पर आप व्यापारियों से अधिक से अधिक गत्ते बनाने का ऑर्डर ले सकें.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस में आवश्यक लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन (License)

किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए यह बहुत जरूरी आवश्यक है कि आप उसका रजिस्ट्रेशन करवा लें. जब आप रजिस्ट्रेशन करवा लें तो उसके बाद अपनी स्थानीय अथॉरिटी से बिजनेस लाइसेंस लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाएं. इसके साथ साथ आपको यह भी बता दें कि आप यह बिजनेस पार्टनरशिप में या फिर अकेले भी शुरू कर सकते हैं. साथ ही आप को इस बात की जानकारी भी दे दें कि अगर आप सरकारी ग्रांट और सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप इसके लिए अपने बिजनेस का एमएसएमई और उद्योग आधार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन भी कर सकते हैं.

वैसे आपको यह बता दें कि अगर कोई व्यवसाय छोटे स्तर पर शुरू किया जाता है तो उसके लिए किसी बड़े लाइसेंस की आवश्यकता नहीं होती है लेकिन आप गत्ते के व्यवसाय में मशीनों का उपयोग करेंगे तो इसके लिए आपके पास फैक्ट्री लाइसेंस होना चाहिए. इसके साथ-साथ आपको प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए उसकी सहमति के लिए आवेदन करना पड़ेगा. इसके अलावा आपको टैक्स फाइलिंग के लिए जीएसटी नंबर की भी आवश्यकता पड़ेगी.

कुटीर उद्योग : शुरू करें व्यवसाय, चमक जाएगी आपकी किस्मत बन जायेंगे मालामाल.  

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस के लिए स्टाफ (Staff)

गत्ते का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको स्टाफ रखने की आवश्यकता भी होगी. यहां बता दें कि स्टाफ रखते समय आप इस बात का ध्यान रखें कि जितनी आपको आवश्यकता हो केवल उतने लोगों को ही काम पर रखें. ‌शुरुआत में आप कम से कम 2 लोगों को काम पर रख सकते हैं.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस में लगने वाली लागत (Investment)

यहां जानकारी दे दें कि इस बिज़नेस में आपको गत्ते के डिब्बे बनाने के लिए जगह, मशीनों, कच्चे माल, लाइसेंस और दूसरी अन्य चीजों की आवश्यकता होगी. जगह और मशीनों को हटाकर आपको दूसरे विभिन्न प्रकार के सामान के लिए आपको कम से कम दो लाख रुपए तक का खर्च करना पड़ सकता है.

कोल्डड्रिंक की बाजार में रहती है काफी डिमांड, कमा सकते हैं 2 लाख रूपये प्रतिमाह, जानें कैसे.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस में मुनाफा (Profit)

यह व्यवसाय आपको काफी अधिक मुनाफा दे सकता है अगर आप इसको ठीक प्रकार से संचालित करेंगे और ग्राहक बनाने में सफल हो सकेंगे. ‌गत्ते के डिब्बों की बाजार में बहुत ज्यादा मांग है इसलिए आप इसका व्यापार शुरू करके हर महीने 10 लाख रुपए से लेकर 15 लाख रुपए तब का लाभ कमा सकते हैं. ‌

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस की मार्केटिंग (Marketing)

इस व्यवसाय में अगर आप सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो जब आप इस काम को शुरू करें तो अपने बिजनेस की बहुत अच्छी तरह से मार्केटिंग करें क्योंकि जब लोगों को पता चलेगा कि आपने नया गत्ते के डिब्बे बनाने का काम शुरू किया है तो सभी लोग आपके पास आएंगे. मार्केटिंग के लिए आप अपने दुकान के आसपास के लोगों के लिए पर्चे छपवा कर बंटवाएं  और आप सोशल मीडिया पर भी अपने बिजनेस की मार्केटिंग करें.

छोटे बड़े हर शहर में होती है पेंट के बिज़नेस की डिमांड, कमाई होती है लाखों में.

गत्ते के डिब्बे बनाने के बिज़नेस में रिस्क (Risk)

गत्ते के बॉक्स के बिजनेस में किसी भी प्रकार का कोई रिस्क नहीं है यदि आप इसको एक उचित रणनीति बनाकर शुरू करेंगे. यह व्यवसाय पूरा साल आपको एक अच्छी आमदनी देने वाला है. आज हर प्रकार के बिजनेस को गत्ते से बने हुए डिब्बों की बहुत ही ज्यादा आवश्यकता है इसलिए इस काम को शुरू करके आपको किसी प्रकार का घाटा नहीं हो सकता. ‌

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया कि आप गत्ते का बिजनेस किस प्रकार से शुरू करके हर महीने लाखों रुपए कमा सकते हैं.

FAQ

Q : गत्ते बनाने के लिए कौन से कच्चे माल की आवश्यकता पड़ती है ?

Ans : क्राफ्ट पेपर.

Q : क्या गत्ते बनाने का व्यवसाय बिना मशीनों के शुरू किया जा सकता है ?

Ans : नहीं.

Q : मशीनें कहां से खरीदें ?

Ans : इंडियामार्ट और ट्रेड इंडिया या फिर अपने इलाके के सप्लायर से.

Q : इस व्यवसाय में क्या रिस्क है ?

Ans : कुछ नहीं.

Q : गत्ते के बॉक्स के बिजनेस से हर महीने कितने रुपए कमाए जा सकते हैं ?

Ans : 10-15 लाख रुपए हर महीने.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *