Latest Profitable Business : सरकार की मदद से शुरू करें एलईडी लाइट का व्यापार, और लाखों की कमाई प्रतिमाह करें

आज के इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देंगे एलईडी लाइट के बिजनेस के बारे में. लेकिन सबसे पहले हम आपको बता दें कि एलईडी का पूरा नाम लाइट एमिटिंग डायोड है और इसके बने हुए इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बिजली की बहुत अधिक बचत करते हैं. इसीलिए सरकार देश भर में एलईडी को बढ़ावा दे रही है जिसके चलते पिछले साल सरकार ने सारे देश में डोमेस्टिक एफिशिएंट लाइट प्रोग्राम को भी शुरू किया था. वर्तमान में इसी स्कीम का नाम भारत सरकार ने बदलकर उजाला कर दिया है और यह योजना पूरे देश में काफी सफल भी रही है. उजाला योजना के कामयाब होने की वजह से देश में एलईडी के व्यवसाय की संभावना भी काफी बढ़ गई है. यह व्यापार शुरू करना बहुत आसान है और इसको आप कम पैसों में आराम से शुरू कर सकते हैं. आज इस पोस्ट में हम एलईडी बिजनेस के बारे में आपको सारी जानकारी दे रहे हैं.

led light making business in hindi

Online Business : अपने स्मार्ट फोन को काम पर लगायें, फोटो खींच कर पैसे कमायें.

एलईडी लाइट का व्यापार कैसे शुरू करें

एलईडी लाइट का काम कई तरह से शुरू किया जा सकता है और इस ट्रेड से आप काफी अधिक फायदा कमा सकते हैं. अगर आप यह व्यापार शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको बाजार में एक दुकान किराए पर लेनी होगी. यदि आपके पास पहले से ही कोई दुकान है तो आप उस जगह को अपनी एलईडी लाइट का काम शुरू करने में प्रयोग करें. इस तरह आपका किराए का पैसा बच जाएगा और आप अपनी दुकान की अच्छी तरह से फर्निशिंग करा कर एलईडी लाइट का काम शुरू कर सकते हैं. आप अपनी दुकान के लिए एलईडी लाइट किसी होलसेलर या फिर सप्लायर से खरीद कर भी अपना काम कर सकते हैं.

एलईडी लाइट के व्यापार में लगने वाली लागत

एलईडी लाइट का व्यापार करने के लिए आपको लगभग 1.5 लाख रुपए से लेकर 2 लाख रुपए की जरूरत पड़ेगी. अगर आपकी दुकान बाजार में अच्छी लोकेशन पर है तो आप हर महीने 20 हजार रुपए से लेकर 30 हजार रुपए तक का लाभ कमा सकते हैं. इसीलिए 2 लाख रुपए का निवेश करके हर माह मिनिमम 20 हजार रुपए कमाने के लिए यह एक बहुत ही बेहतरीन बिजनेस आईडिया है.

टायर का व्यवसाय करने से होती हैं प्रतिदिन 50 हजार की कमाई, ऐसे करें बिज़नेस.

एलईडी सप्लायर के रूप में करें व्यापार

वैसे अगर आप एलईडी की दुकान को शुरू नहीं करना चाहते तो आप एलईडी सप्लायर भी बन सकते हैं. इस प्रकार अनेकों दुकानों के लिए एलईडी लाइट का काम करते हुए आप काफी मुनाफा कमा सकते हैं. हालांकि इसमें आपको अधिक पैसा निवेश करना होगा यानी लगभग 2-3 लाख रुपए लगाने होंगे. इसके साथ-साथ आपको इस व्यापार के लिए एक गोडाउन या फिर किसी बड़े स्टोर की जरूरत पड़ेगी. अगर आपके पास खुद की जगह है तो फिर आप उसको प्रयोग कर सकते हैं.  जब आप एलईडी के व्यापार के लिए स्थान ले लें तो उसके बाद आपको लाइट की असेंबलिंग करने के लिए व्यापारियों और मैन्युफैक्चरर्स कंपनियों से भी संपर्क करने की आवश्यकता पड़ेगी. इसके अलावा आपको अपने स्टोर में हर प्रकार की एलईडी लाइट रखनी होगी क्योंकि हर रिटेलर की मांग अलग अलग हो सकती है. इसलिए आपको इस बात का ख्याल रखना होगा रिटेलर आपकी दुकान से वापस नहीं जाए. इसके अलावा आपको सामान लाने ले जाने के लिए एक ट्रांसपोर्ट की भी जरूरत पड़ेगी. ‌

असेंबलिंग यूनिट स्थापित करके एलईडी लाइट का व्यापार करें

जी हां, आप एलईडी लाइट का एक असेंबलिंग यूनिट स्थापित करके भी बेहद मुनाफा कमा सकते हैं. लेकिन एक छोटे से असेंबलिंग यूनिट को लगाने की लागत 5-7 लाख रुपए तक आ सकती है. वैसे इस व्यापार को शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत सरकार से ऋण भी लिया जा सकता है. यहाँ हम निम्नलिखित मशीनरी और रॉ मैटेरियल की जानकारी दे रहे हैं जो एक असेंबलिंग यूनिट की स्थापना के लिए आवश्यक हैं –

मशीनरी

  • कॉम्पोनेंट फॉर्मिंग
  • सोल्डरिंग मशीन
  • डिजिटल मल्टीमीटर
  • टेस्टर
  • स्मॉल ड्रिलिंग मशीन
  • लक्स मीटर

रॉ-मेटेरियल

  • लेड चिप्स
  • रेक्टिफायर मशीन
  • हीट सिंक डिवाइस
  • मैटलिक कैप होल्डर
  • प्लास्टिक बॉडी रिफ्लेक्टर
  • प्लास्टिक गिलास
  • कनेक्टिंग वायर
  • सोल्डरिंग फ्लक्स

कोल्डड्रिंक ऐसा प्रोडक्ट हैं जिसकी काफी डिमांड होती है, इसका बिज़नेस करके 2 लाख रूपये तक की कमाई कर सकते हैं.

कॉम्पोनेंट बनाकर एलईडी लाइट का बिजनेस करें

बता दें कि एलईडी की मांग इस समय काफी अधिक है और इसीलिए अब कुछ बड़ी-बड़ी कंपनियों ने भी एलईडी बनाने का काम आरंभ कर दिया है. इसलिए ऐसे में आप लैंप कॉम्पोनेंट बनाने का काम भी शुरू कर सकते हैं. जानकारी के लिए बता दें कि एक छोटा सा वर्कशॉप खोलने के लिए आपको 5 लाख की राशि खर्च करनी पड़ेगी. लेकिन वर्कशॉप शुरू करने के लिए आपको एमएसएमई के माध्यम से भारत सरकार के अधीन इसका रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद सरकार से काम की शुरुआत करने के लिए ऋण भी लिया जा सकता है. एलईडी वर्कशॉप के द्वारा आप हर माह 50-70 हजार रुपए कमा सकते हैं और बाद में अगर आपका कारोबार बढ़ जाता है, तो आप इससे लाखों रुपए भी हर महीने आराम से कमा सकते हैं

एलईडी लाइट का बिज़नेस शुरू करने के लिए प्रशिक्षण

अगर कोई एलईडी लाइट का बिजनेस शुरू करना चाहता है तो उसके लिए भारत सरकार द्वारा एलईडी लाइट ट्रेनिंग भी दी जाती है और बता दें कि यह ट्रेनिंग एमएसएमई मंत्रालय की ओर से दी जाती है. प्रशिक्षण के दौरान आपको एलईडी से संबंधित सारी महत्वपूर्ण जानकारी दी जाएगी ताकि आप बिना किसी परेशानी के अपना एलईडी व्यापार शुरू कर सकें.

बिल्डिंग मटेरियल का बिज़नेस देता है करोड़ों की कमाई करने का मौका, ऐसे कम सकते हैं लाभ

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया एलईडी बिजनेस के बारे में. अगर आपको हमारी यह जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे दूसरों लोगों के साथ शेयर करें.

FAQ

Q : क्या एलईडी लाइट बनाने के व्यवसाय में मुनाफा है ?

Ans : जी हां बिलकुल.

Q : एलईडी लाइट बनाने के व्यवसाय की शुरुआत कैसे करें ?

Ans : सरकार की मदद से इस बिज़नेस की शुरुआत कर सकते हैं.

Q : एलईडी लाइट बनाने के व्यवसाय में कितनी लागत लगेगी ?

Ans : कम से कम 2 से 3 लाख रूपये.  

Q : एलईडी लाइट बनाने के व्यवसाय से कितनी कमाई होती है ?

Ans : लाखों की कमाई कर सकते हैं.

Q : एलईडी लाइट बनाने के व्यवसाय में कौन सा लाइसेंस लेना आवश्यक है ?

Ans : एमएसएमई रजिस्ट्रेशन कराना आवश्यक है.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published.